Header Ads

अपनों का प्यार

प्यार

अपनों का प्यार बहुत महत्व रखता है। यह रिश्ता अहम होता है। बेटी का मां से प्यार दुनिया का सबसे अद्भुत और खूबसूरत रिश्ता है। मां जानती है बेटी का दुख-सुख। पिता भी उसमें भागीदारी जरुर करता है, लेकिन जो बातें मां और बेटी आपस में बांट सकती हैं वह शायद पिता या अन्य के लिए थोड़ी अलग हों।

माता-पिता अपने बच्चों से प्यार करने में कोई कसर नहीं छोड़ते। वे चाहते हैं कि उनके बच्चे उनका नाम रोशन करें और अपनी जिंदगी खुशहाल बनायें। उनकी सदा कामना रही है कि उनका परिवार सुख-समृद्धि से भरा रहे। यह जीवन का सबसे अच्छा तोहफा भी है कि आपका परिवार हमेशा खिलखिलाता रहे, उसकी मुस्कराहट बराबर बनी रहे।

यह प्यार ही है जो हमें जोड़े रखता है। जीवन इसके बिना अधूरा है। एक ऐसा निर्जन स्थान जहां हर जगह-जगह सूखा सूखा है। इसलिए हम अपनों संग रहें और उनके सुख-दुख बांटते रहे। जीवन भी यही सिखाता है। इसी तरह जीवन की गाड़ी चलती है।

कहते हैं न कि जिसे अपनों का प्यार मिल जाये, दुनिया की दूसरी चीज उसके लिए कोई मायने नहीं रखती। इसलिए प्यार अपनों से करो, बाकि दुनिया तो चलती रहती है।

-हरमिन्दर सिंह चाहल.

जरुर पढ़ें : प्यार अपनों से करो....जीवन से इतना प्यार है....हम प्यार क्यों करते हैं?

         पहले लड़ाई, फिर प्यार....प्रेम कितना मीठा है...मेरी मां...मेरी दादी

इन्हें भी पढ़ें :

No comments